network function virtualization in hindi

NFV का परिचय

NFV का पूरा नाम network function virtualization होता है जो की जो network की सेवाओं को virtualize करने का एक तरीका होता है जैसे की router ,firewall और load balancers , जो की परंपरागत रूप से मालिकाना hardware पर चलाए गए है इन सभी सेवाओ को commodity hardware पर virtual machine के रूप में package किया जाता है जो की service providers को मालिकाना के बजाय standard servers पर अपना network को चलाने की अनुमति देते है

NFV(network function virtualization) के साथ आपको प्रत्येक network function के लिए dedicated hardware की आवश्यकता नहीं होती है NFV के अतिरिक्त hardware के संसाधनों की आवश्यकता के बिना service providers को नए network सेवाओ और मांग पर application को देने की अनुमति देकर Scalability and agility(मापनीयता और चपलता) में सुधार करता है

“network function virtualization एक network के प्रमुख function जैसे की directory services ,file sharing और ip configuration को अलग करता है ताकि उन्हें enviroment में distribute किया जा सके “

NFV और SDN एक साथ कैसे काम करते है

SDN network automation में योगदान देता है जो की निति पर आधारित निर्णयों को orchestrate(आर्किस्ट्रेट) करने में सक्षम बनाता है की network traffic कहा जाता है जबकि NFV service पर ध्यान केन्द्रित करता है और NV network की क्षमताओ को virtualized environment के साथ संरेखित करता है जो वे सपोर्ट कर रहे है

NFV का आर्किटेक्चर

इस आर्किटेक्चर में आपको NFV के आर्किटेक्चर के बारे में दिया गया है

  • VNFs(virtualized network functions)-VNFs एक ऐसा software application होता है जो की file sharing ,directory service और ip configuration जैसे network function वितरित करते है
  • NFVi(network function virtualization infrastructure)-NFVi में बुनियादी ढांचे के component होते है जो की software support करने के लिए platform पर computers ,कंप्यूटरिज ,स्टोरेज ,networking –network app को चलाने के लिए जरुरी है
  • MANO(management automation and network orchestration )-MANO,NFV अवसंरचना के प्रबंधक और नए vnf को व्यवस्थित करने के लिए रूप रेखा प्रदान करता है

NFV का लाभ

nfv के साथ ,service providers समर्पित hardware के बजाय standard hardware पर network function को चला सकते है इसके आलावा ,क्योकि network function virtualized है एक server पर कई function चलाए जा सकते है इसका मतबल यह है की low physical hardware की आवश्यकता है जो की संसाधनों समेकन की अनुमति देता है जिसके परिणामस्वरूप physical स्थान ,power और समग्र लागत में कमी आती है

NFV providers को अलग अलग servers पर VNF चलाने या मांग में बदलाव होने पर आवश्यकताओ के इधर उधर ले जाने की सुविधा देता है जो यह लचीलापन service providers को services और apps को तेजी से वितरित करने देता है

source